Spanish women gang-rape -Dumka gang-rape -झारखंड की हैवानियत || best informed news 2024

एक स्पेनिश टुर पर आई महीला का हुआ बलात्कार बनी झारखंड की दरीदों की हैवानियत की बनी शिकार Spanish women gang-rape braking news जिस न्यायाधीश से मिली थी, उन्होंने कहा कि झारखंड में बलात्कार का आरोप लगाया गया स्पेनिश यात्रा व्लॉगर “भावनात्मक रूप से क्षतिग्रस्त हैं लेकिन शारीरिक रूप से स्थिर हैं।” झारखंड के दुमका … Read more

Goutam budha-भगवान बुद्ध की प्रेरक कहानियां

भगवान बुद्ध की प्रेरक कहानियां भगवान बुद्ध, जिन्हें सिद्धार्थ गौतम के नाम से भी जाना जाता है, बौद्ध धर्म के संस्थापक थे। उनके जीवन और शिक्षाएं आज भी प्रासंगिक हैं, और हम जीवन के हर पहलू में उनसे सीख सकते हैं। यहां भगवान बुद्ध की कुछ प्रेरक कहानियां हैं: Goutam budha कहानी नंबर 1: क्षमा … Read more

प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना 2024 (PM-Mudra Loan Yojana): स्वरोजगार के लिए वरदान very best informed

प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना-2024 (PM-Mudra Loan Yojana): स्वरोजगार के लिए वरदान क्या आप अपना खुद का व्यवसाय शुरू करने का सपना देखते हैं? लेकिन पैसो की कमी आपके सपने को साकार करने में बाधा बन रही है? यदि हाँ, तो प्रधान मंत्री मुद्रा लोन योजना (PM-Mudra Loan Yojana) आपके लिए एक वरदान साबित हो सकती … Read more

pola festival – pola kab hai 2024 पोला त्यौहार कब है और पोला त्यौहार क्यों मनाया जाता है?-very best imformed

हॅलो दोस्तो मेरा नाम है रामकृष्ण भोसले और आज हम बात करेगे pola kab hai 2024-के बारे मे -पोला से हर सबंध मे तो चलिए आगे बढते है-भारत एक कृषि प्रधान देश है। यहां की अर्थव्यवस्था और संस्कृति में कृषि का विशेष महत्व है। कृषि कार्यों में मवेशियों का योगदान अतुलनीय है। बैल और गाय … Read more

Desi kahani-क्यो 30 से 40 की उम्र में बढ़ जाती हैं महिलाओं में सेक्स इच्छा-Best informative

Desi kahani-क्यो 30 से 40 की उम्र में बढ़ जाती हैं महिलाओं में सेक्स इच्छा-जानीए फुल जानकारी हिंदी में-2024 हॅलो दोस्तो मेरा नाम है रामकृष्ण भोसले और मै इस ब्लॉग का लेखक हुं मै आज इस लेख में बात करने वाले है सेक्स की क्यो 30 से 40 की उम्र में बढ़ जाती हैं महिलाओं … Read more

vasantha panchami in 2024-पंचमी कब है 2024

नमस्ते, मैं रामकृष्ण हूँ। आपका मेरे ब्लॉग पर स्वागत है।-vasantha panchami in 2024 आज हम बात करेंगे बसंत पंचमी के बारे में। बसंत पंचमी हिंदू धर्म में एक महत्वपूर्ण त्योहार है। यह माघ मास के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को मनाया जाता है। इस दिन से बसंत ऋतु का आगमन होता है।बसंत पंचमी को … Read more

Republic day 2024

India Republic Day 2024: गर्व और समृद्धि का त्योहार

भारत गणराज्य के गौरवशाली समर में, हम आपको सादर भारत गणराज्य के राष्ट्रीय पर्व, “भारत गणतंत्र दिवस” पर स्वागत करते हैं। इस साल, भारत गणराज्य के 75वें गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जा रहा है, और यह एक अद्भुत समय है देशवासियों के लिए गर्व और समृद्धि के भावनाओं को साझा करने के लिए।

इस विशेष अवसर पर, हम सभी भारतीयों को एक-दूसरे के साथ जुड़कर इस महत्वपूर्ण दिन को मनाने का आमंत्रण देते हैं। “भारत गणतंत्र दिवस” एक ऐसा पर्व है जो हमें हमारे संविधान की सुरक्षा और समृद्धि की प्रति प्रतिबद्ध करता है, और हमें एक सशक्त और एकत्रित राष्ट्र की ऊँचाइयों की दिशा में प्रेरित करता है।

 

भारत गणराज्य के इस विशेष मौके पर, हम आपको भारतीय समृद्धि की ओर बढ़ते हुए देखते हैं। “भारत गणतंत्र दिवस” का आयोजन विभिन्न भागों में किया जाता है, जिसमें सेना परेड, राष्ट्रीय गीतों का गायन, और उत्कृष्टता के लिए पुरस्कारों का वितरण शामिल है। इससे हम अपने देशवासियों के बीच एक मजबूत साजगर्भ और समर्पण की भावना को महसूस करते हैं, जो हमारे राष्ट्र को आगे बढ़ाने का संकल्प करते हैं।

“भारत गणतंत्र दिवस” का महत्वपूर्ण हिस्सा है हमारे संविधान का सम्मान करना और उसकी मूलनीतियों को अपनाना। हमें यह याद रखना चाहिए कि हमारी आज़ादी और गणतंत्र की शक्ति हमारे संविधान में निहित हैं, और हमें इसे सच्चाई और ईमानदारी से पालन करना चाहिए। इस दिन को मनाने का एक अच्छा तरीका है विभिन्न स्कूल और कॉलेजों में आयोजित किए जाने वाले संविधान दिवस कार्यक्रमों में शामिल होना

 

“भारत गणतंत्र दिवस” का आयोजन सरकारी दफ्तरों, विद्यालयों और समृद्धि संस्थानों में भी किया जाता है, जिससे समाज में जागरूकता और गर्व की भावना बढ़ती है। इस दिन को आत्मनिर्भर और सकारात्मक भारत की दिशा में एक सशक्त समाज की दिशा में प्रेरित होना चाहिए।

 

“भारत गणतंत्र दिवस” के मौके पर, हमें यह भी याद रखना चाहिए कि हमारा देश विविधता में शानदार है। हर राज्य और क्षेत्र अपनी अनूठी सांस्कृतिक विरासत के साथ इस महत्वपूर्ण दिन को रूपित करता है। विभिन्न राज्यों में आयोजित होने वाले तिरंगा यात्राओं, सांस्कृतिक प्रस्तुतियों और मेलों में भाग लेकर हम अपने देश की शक्ति और समृद्धि का आनंद लेते हैं।

इस विशेष दिन को अद्वितीय बनाने के लिए, हमें अपने समाज में साजगर्भ और समर्पण की भावना को बढ़ाने का संकल्प करना चाहिए। यही समय है जब हमें अपने देश के प्रति अपने अद्वितीय योगदान का आभास करना चाहिए, और हमें एक और बढ़ते हुए भारत के सपने की दिशा में एक समृद्धि भरे भविष्य की ऊँचाइयों की दिशा में प्रेरित करना चाहिए।

समाप्त होते हुए, इस “भारत गणतंत्र दिवस” पर हम सभी को यही कहना चाहेंगे कि हमें अपने देश के प्रति समर्पित रहना चाहिए, और हमें एक सशक्त और समृद्धि भरे भविष्य की दिशा में प्रगाढ़ रूप से काम करना चाहिए। भारत गणराज्य का इस समर में हम सभी मिलकर गर्व महसूस करते हैं और एक नए युग की शुरुआत के साथ हम अपने सपनों को हकीकत में बदलने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

happy republic day 2023

भारत गणतंत्र दिवस 2024: सात्विकता और समर्पण का अद्वितीय महत्व

 

हर साल 26 जनवरी को आने वाले भारत गणतंत्र दिवस का हर बार एक खास अहसास होता है। यह नहीं केवल एक दिन का त्योहार है, बल्कि यह हमारे देश के इतिहास में गर्व की एक अद्वितीय चिन्ह है। 2024 का भारत गणतंत्र दिवस भी हमें सात्विकता और समर्पण की महत्वपूर्ण शिक्षाएं सिखाता है।

इस खास मौके पर हम सभी को यह समझना चाहिए कि गणतंत्र दिवस नहीं केवल एक सामाजिक त्योहार है, बल्कि यह हमें याद दिलाता है कि हमें अपने देश के प्रति अपने कर्तव्यों का पूरी तरह से समर्पित रहना चाहिए।

 

इस विशेष दिन को मनाने के लिए हमें यह भी याद रखना चाहिए कि हमारे संविधान ने हमें एक ऐसे समाज की दिशा में मार्गदर्शन किया है जो सभी नागरिकों को समर्थन, समानता और न्याय का अधिकार प्रदान करता है। इस संविधान की महत्वपूर्ण बात यह है कि हमें सार्वभौमिक समर्पण की भावना को समझना चाहिए और एक ऐसे समृद्धि भरे समाज की दिशा में काम करना चाहिए जो सभी को समर्थन करता है।

यह भी पढ़े-Celebrating India Republic Day 2024: A Patriotic Extravaganza

इस अद्वितीय दिन को मनाने का एक और उत्तम तरीका है हमारे समाज में एकता और सामंजस्य की भावना को बढ़ाना। हमें यह याद रखना चाहिए कि हम सभी एक हैं और हमें मिलकर ही हमारे देश को आगे बढ़ाने में सक्षम हो सकते हैं।

इस साल का भारत गणतंत्र दिवस हमें यह बताता है कि हमें एक सात्विक और सजीव समाज की दिशा में कैसे कदम बढ़ाना चाहिए। हमें यहाँ तक पहुंचने में सक्रिय भूमिका निभाने का संकल्प लेना चाहिए और अपने देश के उज्जवल भविष्य की दिशा में समर्पित रहना चाहिए।

इस शानदार त्योहार के मौके पर, हम सभी को यही चाहिए कि हम अपने समाज में एक नई ऊर्जा का संचार करें और सामूहिक समर्पण के माध्यम से एक औरता और अद्भुत भविष्य की दिशा में प्रगाढ़ रूप से काम करें।

समाप्त होते हुए, हम सभी को एक अद्वितीय और समृद्धि भरा भविष्य बनाने के लिए समर्पित रहने का संकल्प लेने का आमंत्रण देते हैं। इस भारत गणतंत्र दिवस पर हमें यह आशा है कि हम सभी मिलकर अपने देश को और भी महत्वपूर्णता और समृद्धि में बढ़ने में मदद करेंगे।

republic day speech

प्रिय देशवासियों,

                         नमस्ते और जय हिन्द!

आज हम सभी एक ऐसे महत्वपूर्ण दिन के उत्सव में एकजुट होकर समर्पित हैं, जिसे हम भारत गणतंत्र दिवस कहते हैं। यह दिन हमें उन महान समर्थन, समर्पण, और साहस के संकल्प को याद दिलाता है, जिनसे हमने अपने देश को एक समृद्धि और स्वतंत्रता भरे भविष्य की दिशा में आगे बढ़ाने का निर्णय लिया था।

भारत गणतंत्र दिवस का यह महत्वपूर्ण त्योहार हमें याद दिलाता है कि हमारे पूर्वजों ने किस प्रकार से ब्रिटिश शासन के खिलाफ संघर्ष किया और हमें आज़ादी की मिसाल प्रदान की। हमारे देश के वीर शहीदों ने अपने प्राणों की आहुति देकर हमें एक स्वतंत्र भारत की दिशा में मार्गदर्शन किया।

गणतंत्र दिवस हमें हमारे संविधान के पूर्वानुमान और दृष्टिकोण को महसूस कराता है, जिसमें समानता, स्वतंत्रता, और न्याय के मूल सिद्धांत हैं। हमें यह समझना चाहिए कि हमारी आज़ादी का अर्थ यह नहीं है कि हम सिर्फ़ अपने लिए जी सकते हैं, बल्कि हमें इस आज़ादी का सही उपयोग करके अपने समाज और देश के विकास में सहायक होना चाहिए।

आज हमारे देश में विकास के कई क्षेत्रों में अद्भुत प्रगति हो रही है, लेकिन हमें यह भी याद रखना चाहिए कि अगर हम सब मिलकर अपने कर्तव्यों को सही तरीके से नहीं निभाएंगे, तो हम अच्छे भविष्य की दिशा में अग्रसर होने में सक्षम नहीं हो सकते हैं।

गणतंत्र दिवस के इस मौके पर, हमें यह समझना चाहिए कि हम सभी एक बड़े परिवार के सदस्य हैं और हमें एक दूसरे के साथ मिलकर अपने देश की सुरक्षा और समृद्धि के लिए काम करना है। हमें यह भी याद रखना चाहिए कि हमें समाज में समर्थन और समानता की भावना को बढ़ावा देना है ताकि हम सभी मिलकर एक बेहतर और उज्जवल भविष्य की दिशा में बढ़ सकें।

इस अद्वितीय दिन पर, हम सभी को यही कहना चाहते हैं कि हमें एक-दूसरे के साथ मिलकर अपने देश की प्रगति में योगदान देना चाहिए और हमें आपसी सद्भाव और साहस की भावना को बढ़ावा देना चाहिए।

आखिर में, हम सभी को यही कहना चाहते हैं कि हमें गर्व है कि हम भारतीय हैं और हमें यह भी याद रखना चाहिए कि हमें एक सशक्त, समृद्धि भरा, और समृद्धि भरा भविष्य बनाने के लिए मिलकर काम करना है।

धन्यवाद! जय हिन्द!

india republic day

 Celebrating India Republic Day 2024: A Patriotic Extravaganza

As we eagerly anticipate the arrival of India Republic Day in 2024, the air is filled with a sense of pride and patriotism. India Republic Day, celebrated annually on January 26th, marks the historic moment when the Constitution of India came into effect in 1950, transforming the nation into a sovereign republic. Join us on this joyous occasion as we delve into the significance of India Republic Day and explore the diverse ways in which it is celebrated across the country.

happy republic day 2024

The foundation of India Republic Day lies in the remarkable journey towards independence that the nation undertook. As we reflect on the sacrifices made by our forefathers, the spirit of India Republic Day becomes even more profound. The day serves as a poignant reminder of our shared history and the struggles that shaped the democratic values we hold dear. In 2024, India Republic Day not only commemorates the past but also stands as a testament to the enduring strength of our diverse and united nation.

happy republic day

The celebrations on India Republic Day are nothing short of spectacular. From the majestic Republic Day parade in the capital city, New Delhi, to the flag hoisting ceremonies in schools and communities across the country, the fervor is palpable. Citizens come together to honour the tricolour, and the resonating chants of ‘Jai Hind’ echo through the air. India Republic Day truly encapsulates the essence of unity in diversity, bringing people from all walks of life together in a harmonious celebration of nationhood.

republic day

In the heart of the festivities, cultural events play a significant role. Traditional dances, patriotic songs, and theatrical performances grace the stages, showcasing the rich cultural tapestry of India. The cultural mosaic on India Republic Day mirrors the vibrant diversity that defines the nation, making it a unique and colourful spectacle for both participants and spectators alike.

 

Amidst the jubilation, it’s essential to recognise the role of the youth in shaping the future of the nation. Educational institutions take a central role in India Republic Day celebrations, with students actively participating in various events. The youth of India, symbolising hope and aspirations, contribute to the vibrancy of the celebrations, embodying the progressive spirit of the nation on this auspicious day.

 

As we delve into the essence of India Republic Day 2024, it becomes clear that the day is not just a commemoration but a reaffirmation of the values that bind our nation together. It serves as a call to action for citizens to uphold the principles of justice, liberty, equality, and fraternity enshrined in the Constitution. In essence, India Republic Day is a celebration of democracy, diversity, and the collective journey towards a brighter future.

 

In conclusion, India Republic Day in 2024 is more than a mere observance; it is a collective expression of national pride, unity, and the commitment to building a better tomorrow. As we partake in the festivities, let us cherish the shared heritage that unites us as Indians. Happy India Republic Day 2024, a day that echoes the resilience of a nation and the promise of a brighter future for generations to come.

republic day speech in english

1.Embracing Unity and Progress: Republic Day Speech 2024 in English

Ladies and gentlemen,

 

A warm and patriotic greeting to each one of you on this momentous occasion of Republic Day 2024. Today, as we stand on the threshold of a new chapter in our nation’s history, it is not just a commemoration but a celebration of our collective journey towards unity, progress, and resilience.

In the tapestry of time, Republic Day serves as a vibrant thread, weaving together the aspirations of a young and dynamic nation. The resonance of “Republic Day speech 2024” echoes in our hearts, symbolizing not just a constitutional milestone but a testament to the spirit that defines us as Indians.

As we gather here, let us take a moment to reflect on the significance of this day. Republic Day is not merely a date on the calendar; it is a reminder of the countless sacrifices made by our forefathers. In 1950, the Constitution of India came into effect, solidifying the principles of justice, liberty, equality, and fraternity. These principles are not static; they are the living embodiment of our democratic ethos, evolving with the times.

The theme of “Republic Day speech 2024” is not confined to the ceremonial events in the capital but extends to every corner of our diverse and expansive nation. It beckons us to embrace the richness of our cultural mosaic and appreciate the unity that binds us despite our differences. In a world that often seems divided, our diversity is our strength, and Republic Day is a celebration of this strength.

This year, as we navigate through the complexities of a rapidly changing world, the spirit of our Constitution becomes a guiding light. Our nation faces challenges, both internal and external, but our collective resolve can overcome any adversity. As I stand here before you, my fellow citizens, I am filled with hope and confidence in our ability to overcome challenges and emerge stronger.

In the tapestry of our democracy, each citizen is a vital thread. Your actions, choices, and commitment to the values enshrined in our Constitution contribute to the larger picture. In the spirit of this “Republic Day speech 2024,” let us pledge to be active participants in our democracy. Let us not only enjoy the rights bestowed upon us but also shoulder the responsibilities that come with them.

Our journey towards progress must be inclusive. As we celebrate the achievements of the past, let us also acknowledge the gaps that still exist. It is our collective responsibility to bridge these gaps and ensure that the benefits of progress reach every citizen. In doing so, we fulfill the true essence of our democratic ideals.

In conclusion, my fellow citizens, let this “Republic Day speech 2024” be a catalyst for positive change. Let it inspire us to embrace unity, celebrate diversity, and work towards a more equitable and progressive nation. As we hoist our tricolour high, let it symbolize not just a flag but a beacon of hope for a brighter, inclusive, and harmonious future.

Jai Hind!

Read more post-India Republic Day 2024: गर्व और समृद्धि का त्योहार

2.Ladies and Gentlemen,

Good morning/afternoon/evening,

I stand before you today with a heart brimming with pride and a spirit soaring with patriotism as we gather to celebrate the 73rd Republic Day of our great nation.

On this historic day, let us take a moment to reflect on the journey that has brought us here – a journey marked by sacrifice, resilience, and an unwavering commitment to the ideals of justice, liberty, equality, and fraternity.

As we raise our tricolour high, let it serve as a symbol not just of our sovereignty but of the unity that binds us together, transcending the myriad diversities that define our land.

The significance of Republic Day goes beyond the historical moment when our Constitution came into effect. It is a day to reaffirm our collective responsibility in upholding the principles that guide our nation. In the English language, let me express the profundity of this commitment – a commitment to fostering an inclusive society where every citizen’s rights and dignity are respected.

Our democracy is a beacon of hope, a testament to the power of the people. In the tapestry of our diverse nation, each thread is vital, and every citizen plays a crucial role. Today, in English, I urge each one of us to recognize the strength that lies in our diversity and to appreciate the beauty that emanates from our unity.

The journey of our nation has been one of progress, albeit with challenges along the way. It is in overcoming these challenges that we discover the true mettle of our character. Our Republic Day celebration is not just a commemoration; it is a celebration of our ability to learn, adapt, and grow as a society.

In this globalized world, let us also recognize our place on the international stage. Our contributions, whether in science, technology, arts, or diplomacy, make us an integral part of the global community. The English language serves as a bridge, enabling us to communicate our ideas, values, and aspirations to the world.

As we look towards the future, let hope be our guiding star. The youth of our nation, with their energy and aspirations, hold the key to shaping the destiny of India. In English, I express my confidence that the coming years will witness remarkable achievements and progress, propelled by the collective efforts of our citizens.

In conclusion, let us carry the spirit of Republic Day beyond this moment, into our daily lives. Let us be the champions of justice, the defenders of liberty, the proponents of equality, and the torchbearers of fraternity. May the ideals enshrined in our Constitution be our guiding light as we march forward into a future that is not only bright for us but for generations to come.

Jai Hind!